Caligula:इतिहास का सबसे क्रूर और व्यभिचारी रोमन सम्राट

0
1005

प्राचीन रोम साम्राज्य अगर अपने महान शासकों के लिए जाना जाता है तो शासकों की इसी सूची में सम्राट कैलिगुला का नाम भी शामिल है जो अपने व्यभिचार और क्रूरता के कारण पूरी दुनिया के इतिहास में कुख्यात है.

रोमन सम्राट कैलिग्यूला पहले ऐसे तानाशाहों में गिने जाते हैं जो कि अपने भड़कीले व्यवहार और तुनक मिजाज़ी के लिए जाने जाते हैं. यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन में इतिहास पढ़ाने वाले वरिष्ठ व्याख्याता डॉक्टर बेनेट बताते हैं कि कैलिग्यूला ने एक बार आदेश दिया कि सारी नौंकाएं नेपल्स की खाड़ी में एक कतार में खड़ी हो जाएं ताकि वो उन पर चल कर एक एक शहर से दूसरे शहर जा सके.कैलिग्यूला को रेस के घोडे़ बेहद पंसद थे. कहा जाता है कि उन्होंने अपने प्रिय घोड़े के लिए अलग से घर बनवाया था, जिसमें उसकी सेवा के लिए सैनिक तैनात थे, साथ ही घोडे़ को सोने के मर्तबान में शराब पिलवाई जाती थी.

कैलिग्यूला ने सार्वभौमिक सत्ता और ताकत के इस्तेमाल की सारी संभावनाओं को तलाशा.वो खुद को भगवान् मानता था और उसने लोगों को विवश किया कि लोग उसे पूजे. जिसने भी उसका का विरोध किया, उसे मौत के घाट उतर दिया गया. उसने अपने शासन में क्रूरता की सारी हदें पार कर दी थी. वो इतना निर्दयी था कि अपराधियों को सजा देने के लिए उन्हें शेर के पिंजरे में छोड़ देता था. ये ही नहीं, कई बार तो वो अपराधियों की जीभ काटकर शेर के पिंजरे में छोड़ देता था ताकि वह आदमी चीख भी न सके. सिर्फ चार साल के शासन में इसने कई हज़ार लोगों को मौत के घाट उतर दिया और अंततः खुद भी अपने दरबारियों के हाथों मारा गया।

कैलिग्यूला विचित्र सेक्सोमेनिया का शिकार था। वो स्त्रियों का भोग फल काटने के अंदाज़ में करता था। एक बार उसने अपने दरबारियों को आदेश दिया की वो भरे दरबार में अपनी अपनी पत्नियों के साथ शारीरिक भोग करें। कैलिग्यूला पूरे साम्राज्य की स्त्रियों पर पहला हक़ खुद का समझता था। वो जब चाहे जिसका चाहे शीलभंग कर देता था। उसने अपनी तीनों बहनों को भी अपनी हवस का शिकार बनाया और सौतेले भाई का बलात्कार कर डाला। उसे लोगों की काम क्रीड़ा देख अद्भुत आनंद मिलता था। परपीड़न की यही आदत उसके विनाश का कारण बना .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here