Queen Anjinga Mbband:यौन संबंध के बाद अपने आशिकों को ज़िंदा जलवा देती थी ये रानी

0
666

इतिहास की किताबों में झांकें तो अफ़्रीकी देश अंगोला की रानी एनजिंगा एमबांदी एक बहादुर और तेज दिमाग़ वाली योद्धा के रूप में नज़र आएंगी, जिन्होंने 17वीं शताब्दी में अफ़्रीका में यूरोपीय उपनिवेशवाद के ख़िलाफ़ जंग छेड़ी थी.लेकिन इस रानी का एक विकृत पहलू भी है जो इन्हें कामांध और क्रूर रानी के रूप में स्थापित करता है .इस रानी को रोज नए नए गुलामों के साथ यौन सम्बन्ध बनाने और उसके बाद अपने आशिक को ज़िंदा जलवा देने का बेहद क्रूर शौक था.

रानी एनजिंगा एमबांदी को कुछ लोग उन्हें एक क्रूर महिला के रूप में देखते हैं, जिन्होंने सत्ता के लिए अपने भाई को भी मौत के घाट उतार दिया.वह अपने हरम में रहने वाले पुरुषों के साथ एक बार यौन संबंध बनाने के बाद उन्हें ज़िंदा जलवा देती थीं.लेकिन इतिहासकार एक बात पर राजी होते हैं और वह यह है कि एनिजिंगा अफ़्रीका की सबसे लोकप्रिय महिलाओं में से एक हैं.

साल 1617 में जब राजा एमबांदी किलुंजी की मौत हो गई तो उनके एक बेटे एनगोला एमबांदी ने सत्ता संभाली.लेकिन उनमें अपने पिता वाला करिश्मा और अपनी बहन एनजिंगा जैसी बुद्धि नहीं थी.एनगोला एमबांदी को जल्द ही ये डर सताने लगा कि उनके अपने ही लोग एनजिंगा की तरफ़ से उनके ख़िलाफ़ षड्यंत्र कर रहे हैं. और इसी डर के चलते एनगोला एमबांदी ने एनजिंगा के बेटे को मौत की सज़ा देने का ऐलान किया.लेकिन जब नए राजा ने ख़ुद को यूरोपीय आक्रमणकारियों का सामना करने में असफल पाया क्योंकि वह धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे थे और भारी जनहानि कर रहे थे. ऐसे में एनगोला एमबांदी ने अपने एक क़रीबी सहयोगी की सलाह मान ली.सके बाद राजा एनगोला एमबांदी ने अपनी बहन के साथ सत्ता को बांटने का फैसला किया.

एनजिंगा का अंदाज एक रानी के मुताबिक़ क्रूरता से भरा था. उदाहरण के लिए, इमबांगाला योद्धाओं की मदद लेना जो राज्य की सीमा पर रहते थे ताकि अपने प्रतिद्वंद्वियों को डराकर अपनी स्थिति को मजबूत किया जा सकेकई सालों तक अपने राज्य का नेतृत्व करने के बाद एनजिंगा ने अपने पड़ोसी राज्य मुतांबा पर अधिकार कर लिया. इसके साथ ही अपनी सीमाओं की भी ढंग से हिफाजत की.

रानी एनजिंगा ने पुरुषों का एक हरम बना रखा था जिसे कहा जाता था. और इसमें रहने वाले पुरुषों को पहनने के लिए महिलाओं के कपड़े दिए जाते थे.यही नहीं, जब रानी को अपने हरम में मौजूद किसी पुरुष के साथ सेक्स करना होता था तो हरम के लड़कों को आपस में मौत होने तक लड़ना होता था.लेकिन जीतने वाले को जो मिलता था वो और भी ज़्यादा ख़तरनाक होता था.दरअसल, ये होता था कि इन पुरुषों को सेक्स के बाद जलाकर मार दिया जाता था.

हालांकि, ये माना जाता है कि कावेज़ी की कहानियां दूसरे लोगों के दावों पर आधारित हैं. ऐसे में इतिहासकार मानते हैं कि इसके कई और वर्जन भी मौजूद हैं.

  Input:bbchindi.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here