क्या है जम्मू-कश्मीर का आर्टिकल 35 A,हंगामा क्यों है बरपा ! | Mix Pitara

35A भारतीय संविधान का वह अनुच्छेद है जो जम्मू-कश्मीर विधानसभा को लेकर प्रावधान करता है. यह राज्य को यह तय करने की शक्ति देता है कि जम्मू का स्थाई नागरिक कौन है? वैसे 1956 में बने जम्मू कश्मीर के संविधान में स्थायी नागरिकता को परिभाषित किया गया था. यह आर्टिकल जम्मू-कश्मीर में ऐसे लोगों को कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने या उसका मालिक बनने से रोकता है जो वहां के स्थायी नागरिक नहीं हैं.आर्टिकल 35A जम्मू-कश्मीर के अस्थाई नागरिकों को वहां सरकारी नौकरियों और सरकारी सहायता से भी वंचित करता है.

0
43

सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर को विशेषाधिकार देने वाली अनुच्छेद 35A में बदलाव की मांग से जुड़ी याचिका पर सुनवाई 27 अगस्त तक टाल दी है. आर्टिकल 35A जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को विशेष अधिकार प्रदान करता है. जम्मू-कश्मीर में इस आर्टिकल में किसी भी तरह के बदलाव का विरोध हो रहा है.आइये जानते हैं क्या है आर्टिकल 35A.?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here