निजाम उस्मान अली खान :20 करोड़ डॉलर का पेपरवेट इस्तेमाल करते थे नवाब साहब

0
45

 देश के सबसे अमीर शख्स भले ही आज मुकेश अंबानी हों, लेकिन भारत के अब तक के सबसे अमीर शख्स के तौर पर हैदराबाद के अंतिम निजाम उस्मान अली खान का नाम आता है। ब्रिटिश न्यूजपेपर ‘द इंडिपेंडेन्ट’ की एक खबर के अनुसार हैदराबाद के निजाम(1886-1967) की कुल संपत्ति 236 अरब डॉलर आंकी गई थी, जबकि आज मुकेश अंबानी की संपत्ति 29.9 अरब डॉलर ही है।  चीन से 1962 के वॉर के दौरान भारत फाइनेंशियली काफी कमजोर हो गया था।ऐसे में, तत्कालीन PM लाल बहादुर शास्त्री ने खतरों से निपटने के लिये देश के बड़े-बड़े लोगों से फाइनेंशियल हेल्प की अपील की थी।तब निजाम मीर उस्मान अली ने भारत सरकार को पांच टन (5000 किलो) सोना नेशनल डिफेंस फंड में दिया था।आज इतने सोने की कीमत 1600 करोड़ से अधिक है।

 कहा जाता है कि निजाम 20 करोड़ डॉलर (1340 करोड़ रुपए) की कीमत वाले डायमंड का यूज पेपरवेट के तौर पर किया करते थे। – मोतियों और घोड़ों को लेकर उनके शौक के बारे में आज भी हैदराबाद के आसपास कई कहानियां सुनने को मिलती हैं। – हैदराबाद के निजाम का शासन मुगल निजामशाही के तौर पर 31 जुलाई, 1720 को शुरू हुआ था। – इसकी नींव मीर कमारुद्दीन खान ने रखी थी।उस्मान अली खान इस डाइनेस्टी के आखिरी निजाम थे।  निजाम एक और चीज के लिए बेहद फेमस थे। निजाम की कितनी बीवियां और बच्चे थे, इसका हिसाब लगाना मुश्किल है।आइये जानते हैं निजाम के बारे में कुछ दिलचस्प बातें ….


– रिपोर्ट्स के मुताबिक निजाम की जिस वक्त मौत हुई, तब तक दर्जनों बीवियों से उनके करीब 86 बच्चे थे।
– कहा जाता है कि हैदराबाद के निजाम अमीर होने के साथ-साथ बहुत कंजूस भी थे।
– निजाम ने अपनी लाइफ में 35 साल तक एक ही टोपी पहनी और वे अपने कपड़े भी कभी प्रेस नहीं करवाते थे।
– वे टीन की प्लेट में खाना खाते थे और बहुत ही सस्ती सिगरेट पीते थे।
– यही नहीं, निजाम ने कभी सिगरेट का पूरा पैकेट खरीदकर नहीं पिया। 
– निजाम के वारिस अब गुमनामी की जिंदगी जी रहे हैं। निजाम ने कई बेटों में से अपने किसी भी बेटे को अपना वारिस नहीं चुना था। – बाद में निजाम ने ग्रैंड सन मुकर्रम जहां को अपना वारिस बनाया था।मुकर्रम की मां और पहली पत्नी भी तुर्की की ही रहने वाली थीं।  इस समय में मुकर्रम जहां तुर्की के शहर इस्तांबुल के एक फ्लैट में रहते हैं। इससे पहले वह ऑस्ट्रेलिया में रहते थे। – एक समय ऐसा आया जब मुकर्रम जहां के पास अपने मुकदमे की पैरवी के लिए वकील की फीस भरने के भी पैसे नहीं रहे।
– मुकर्रम ने 5 शादियां की। उन्होंने तीसरा विवाह मिस तुर्की रह चुकी महिला से किया था।   

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here